Yogi Adityanath new scheme for girls | लड़कियों के लिए योगी आदित्यनाथ नई योजना

 uttar pradesh के वर्तमान मुख्यमंत्री श्री yogi Adityanath महिला सशक्तिकरण की तरफ ध्यान देते हुए महिलाओं को आर्थिक दृष्टि से संपन्न बनाने के लिए कई ऐसे कदम उठाए हैं जो सराहनीय हैं। आइए आज इस पोस्ट में जानते हैं कि मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने लड़कियों के लिए कौन-कौन सी (nayi yojana )योजनाएं निकाली है जिनका लाभ उत्तर प्रदेश की लड़कियां उठा सकती हैं। इसके अलावा हम इस पोस्ट में हम योगी आदित्यनाथ जी द्वारा लड़कियों को दी जा रही प्रमुख schemes के बारे में बात करेंगे।

लड़कियों के लिए योगी आदित्यनाथ नई योजना |
लड़कियों के लिए योगी आदित्यनाथ नई योजना |

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना

उत्तर प्रदेश में को शैक्षिक दृष्टि से सशक्त बनाने के लिए मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने भारत सरकार की चल रही योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत हाईस्कूल और इंटर में अच्छे मार्क्स लाने वाली लड़कियों को लैपटॉप और नगद धनराशि एवं एक साइकिल देने की योजना प्रारंभ की है। जिसके तहत यदि कोई लड़की हाई स्कूल या इंटरमीडिएट में अच्छे नंबर से पास होती है, तो उसके गांव में उसके नाम से एक सड़क बनेगी एवं उसे एक लैपटॉप और ₹30000 तक की नगद धनराशि एवं एक साइकिल मिलेगी। इस योजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश में बेटियों के शैक्षिक योग्यता को बलवती करना है।

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना का कैसे मिलेगा लाभ?

उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट घोषित होने के बाद इसी योजना में चयन होने वाली लड़कियों की सूची उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रत्येक विद्यालय में भिजवा दी जाती है। इसके बाद से जो लड़कियां अच्छे मार्क्स से हाई स्कूल में पास होती हैं। इसके लिए लड़कियों को लगभग 75% से ऊपर के मार्क्स लाने वाली लड़कियों को इस योजना में चयनित किया जाता है।

कन्या सुमंगला योजना। kanya sumngla yojana 

 उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्ष 2019 में एक nayi yojana का प्रारंभ किया जिसका नाम कन्या सुमंगला योजना था। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार 300000 वार्षिक आय से कम वाले परिवार की दो कन्याओं को गोद लेने की प्रक्रिया के तहत जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्चा वाहन करने की योजना लागू की। जिसके तहत प्रत्येक परिवार की दो कन्याओं को ₹15000 की धनराशि प्रदान की जाती है। यदि किसी परिवार में 2 कन्याएं हैं तो उन्हें ₹30000 सरकार की तरफ से दिए जाएंगे।

कन्या सुमंगला योजना में पात्रता के लिए मानदंड

  1. परिवार की वार्षिक आय ₹300000 से कम हो
  2. इस योजना में आवेदन के लिए 1 अप्रैल, 2019 के बाद जन्म लेने वाली सभी लड़कियों के लिए आवेदन मान्य होगा।
  3. योजना में आवेदन से पहले जन्म प्रमाण पत्र आवश्यक है।
  4. इस योजना में आवेदन जन्म के इनसे 6 महीने बाद तक हो जाना चाहिए।
  5. माता पिता के पास अपना स्थाई निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, बैंक पासबुक इत्यादि होने चाहिए।
  6. जन्म लेने वाले लड़की का फोटो
  7. पूरे परिवार का फोटो।

कन्या सुमंगला योजना में मिलने वाला लाभ।

  • पहली किश्त – कन्या के 1 अप्रैल 2019 या इसके बाद जन्म होने पर तथा इस योजना के तहत कन्या के लिए आवेदन जन्म से लेकर 6 माह के  अंदर करना पर 2000 रूपये की धनराशि दी जाएगी। 
  • दूसरी किश्त – कन्या के एक वर्ष के तक के पूर्ण टीकाकरण के उपरांत 1000 रूपये की धनराशि दी जाएगी।
  • तीसरी किश्त – कन्या के कक्षा 1 में प्रवेश लेने पर 2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी | 
  • चौथी किश्त – कन्या के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर 2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |
  • पांचवी किश्त – इसके बाद कक्षा 9 में प्रवेश लेने के उपरांत3000 रूपये की धनराशि  प्रदान  की जाएगी।
  • छठी किश्त – कक्षा 10 /12 वी  उत्तीर्ण करके चालू शैक्षिणिक सत्र के दौरान स्नातक /डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लेने पर 5000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।

Kanya sumngla scheme में ऐसे करें online आवेदन

उत्तर प्रदेश सरकार ने कन्या सुमंगला योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए एक वेबसाइट बना रखी है जिस पर आप जाकर अपनी डिटेल भर सकते हैं और ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस वेबसाइट के लिंक हम नीचे दे रहे हैं आप वहां पर जाकर इस योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Bhagya Laxmi Yojana | उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना।

उत्तर प्रदेश सरकार ने आर्थिक दृष्टि से गरीब परिवार की लड़कियों को शैक्षिक और आर्थिक दृष्टि से मजबूत बनाने हेतु  Bhagya Laxmi scheme की शुरुआत की है
इस योजना में लड़कियों को ₹50000 की आर्थिक सहायता धन राशि प्रदान की जाएगी।
इसके अलावा इस योजना में लड़की की मां को भी ₹5100 की आर्थिक सहायता धनराशि प्रदान की जाएगी
इस UP Bhagya Laxmi Yojana के तहत जब लड़की 6 वीं कक्षा में आएगी तो माता-पिता को 3,000 रुपये, 8 वीं कक्षा में 5000 रुपये, कक्षा 10 में 7,000 रुपये और 12 वीं कक्षा में 8,000 रुपये दिए जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत  लड़की के 21 वर्ष की आयु होने तक लड़की के माता-पिता को 2 लाख रुपये का कुल धनराशि  वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी ।

UP Bhagya Laxmi Yojana में आवेदन कैसे करें?

उत्तर प्रदेश सरकार ने भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत की ब्लॉक स्तर पर कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को इस योजना के क्रियान्वयन का भार सौंपा है। प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक आंगनबाड़ी कार्यकत्री होती है। जिनकी सहायता से आप इस योजना में लाभ उठा सकते हैं। नीचे हम इस योजना का फॉर्म दे रहे हैं आप इस फॉर्म को डाउनलोड करके और पूरी डिटेल भरकर के अपनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री को दे सकते हैं। इसके बाद आंगनबाड़ी कार्यकत्री इन्हें महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्रालय के अधिकारियों के पास जमा कर देंगे। इसके बाद आप इस योजना के लिए पात्र होंगे तो आपको इस योजना का लाभ मिलेगा।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां