delta plus veriant covid19 news | lockdown news today | कोरोनावायरस का डेल्टा प्लस वेरियस क्या है?

 विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस के नए रूप   delta plus covid19 variant  के विकसित होने की बात कही है। यह वैरीअंट कोविड-19 वायरस के पुराने रूप से ज्यादा खतरनाक है। आइए जानते हैं क्या है delta  प्लस वेरिएंट?

covid19 delta plus variant news
covid19 delta plus variant

covid19 delta plus variant kya Hai

भारत में अब तक डेल्टा प्लस वेरिएंट के लगभग 22 से अधिक मरीज चिन्हित किए गए। जिसमें से किसी भी व्यक्ति की मृत्यु अब तक नहीं हुई।
कोविड-19 के डेल्टा  वेरिएंट से सबसे अधिक  संक्रमण corona वायरस की दूसरी लहर में हुए थे। कोविड-19 का डेल्टा वैरीअंट सबसे अधिक खतरनाक था जिससे  संक्रमित व्यक्ति की मौत कुछ ही दिनों में हो जाती थी। कोरोनावायरस का डेल्टा प्लस रूप कोविड-19 डेल्टा  वायरस के म्यूटेशन से मिलकर बना हुआ है । कोविड-19 के डेल्टा वेरिएंट में कुछ बदलाव होकर यह डेल्टा प्लस वेरिएंट के रूप में विकसित हो गया।
वैज्ञानिकों का मानना है, यह वायरस डेल्टा वेरिएंट से अत्यधिक खतरनाक नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के वैज्ञानिकों का कहना है कि डेल्टा प्लस वेरिएंट से कोरोनावायरस की तीसरी लहर आएगी जो अत्यधिक चिंता जनक नहीं है। भारतीय वैज्ञानिकों का कहना है कि भारत सरकार इस वायरस के बारे में जितनी जानकारियां इकट्ठा करनी है, इकट्ठा कर रही है और भारतीय जनता को इस वायरस के रूप से सतर्क कर रही है।

covid19 delta plus variant के लक्षण।

कोविड-19 डेल्टा प्लस वेरिएंट के लक्षण पुराने वाले डेल्टा वायरस या कोविड-19 वायरस की तरह ही हैं। डेल्टा प्लस वैरीअंट के कुछ लक्षण इस प्रकार है
  1. बुखार
  2. खांसी
  3.  गले में खराश
  4. सांस लेने में अत्यधिक परेशानी।
  5.  आंखों का लाल होना।
  6.  सिर दर्द
  7. अत्यधिक शारीरिक परेशानी।

covid19 delta plus variant से बचाव के उपाय।

 कोविड-19 के डेल्टा प्लस हुआ है इससे बचने हेतु। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने उपाय बताए हैं जिनको आपको अपनी दिनचर्या में अपनाना होगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन और वैज्ञानिकों को द्वारा बताए गए कुछ उपाय इस प्रकार हैं।
  •  मुंह पर मास्क का उपयोग करते रहे।
  • भीड़भाड़ वाले स्थान पर जाने से बचें।
  •  भीड़भाड़ वाले स्थान पर 1 गज की दूरी बनाए रखें।
  •  बाहर से घर लौटने पर अपने हाथों को अच्छी तरह से साबुन से धोएं और उन्हें सैनिटाइजर जरूर करें।
  •  गर्म पानी पिए।
  • विटामिन सी वाले पदार्थ खाएं ताकि आपका अक्सीजन लेवल अच्छा रहे
  •  बुखार के लक्षण दिखाई देने पर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र अथवा अच्छे डॉक्टर को दिखाएं।
  • घर के किसी सदस्य में बुखार के सामान्य लक्षण दिखाई देने पर उससे दूरी बनाए रखें।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ